TET eligibility

 

टीईटी में बैठनेे के लिए निम्नलिखित व्यक्ति पात्र हैंः

1.1 कक्षा I-V हेतु शिक्षक बनने के लिए न्यूनतम योग्यताएं: प्राथमिक स्तर

सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) न्यूनतम 50% अंकों के साथ और प्रारंभिक शिक्षा में दो वर्षीय डिप्लोमा (चाहे किसी भी नाम से जाना जाए) के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण ।

अथवा

सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) न्यूनतम 45% अंकों के साथ और एनसीटीई (मान्यता मानदंड एवं प्रक्रियाएं), रेगुलेशन 2002 के अनुसार प्रारंभिक शिक्षा में दो वर्षीय डिप्लोमा (चाहे किसी नाम से जाना जाए) के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण ।

अथवा

सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) न्यूनतम 50% अंकों के साथ और 4-वर्षीय प्रारंभिक शिक्षा में स्नातक (B.El.Ed) के अंतिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

अथवा

सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) न्यूनतम 50% अंकों के साथ और शिक्षा में 2-वर्षीय डिप्लोमा (विशेष शिक्षा) के अंतिम वर्ष में शामिल होने वालेे अथवा उत्तीर्ण।

अथवा

स्नातक और प्रारंभिक शिक्षा में दो वर्षीय डिप्लोमा (चाहे किसी भी नाम से जाना जाए) के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वालेे या उत्तीर्ण ।

1.2 कक्षा VI-VIII के लिए शिक्षक बनने हेतु न्यूनतम योग्यताएं: प्रारंभिक स्तर

स्नातक ओैर प्रारंभिक शिक्षा में दो वर्षीय डिप्लोमा (चाहे किसी भी नाम से जाना जाए) के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वालेे अथवा उत्तीर्ण।

अथवा

स्नातक कम से कम 50% अंकों के साथ और एक वर्षीय शिक्षा में स्नातक (बीएड) में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

अथवा

स्नातक कम से कम 45% अंकों के साथ और इस संबंध में समय-समय पर जारी एनसीटीई (मान्यता मानदंड और प्रक्रियाएं) रेगुलेशन्स के अनुसार एक वर्षीय शिक्षा में स्नातक (बीएड) में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

अथवा

सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) कम से कम 50% अंकों के साथ और चार वर्षीय प्रारंभिक शिक्षा में स्नातक (B.El.Ed) के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

अथवा

सीनियर सेकेण्ड्री (अथवा इसके समकक्ष) कम से कम 50% अंकों के साथ और चार वर्षीय बीए/बीएससी.एड अथवा बीए.एड/बीएससी.एड के अन्तिम वर्ष में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

अथवा

स्नातक कम से कम 50% अंकों के साथ और एक वर्षीय बीएड (विशेष शिक्षा) में शामिल होने वाले अथवा उत्तीर्ण।

1.3 टिप्पणीः

अ.जा./अनु.ज.जा/अ.पि.व./विशेष रूप से विकलांग जैसी आरक्षित श्रेणी के अभ्यर्थियों को पात्रता हेतु न्यूनतम शैक्षिक अर्हता में 5% अंकों की छूट की अनुमति होगी ।
शिक्षक शिक्षा में डिप्लोमा/डिग्री कोर्स: इस अधिसूचना के उद्देश्यों के लिए केवल राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद् (एनसीटीई) द्वारा मान्यता प्राप्त शिक्षक शिक्षा में डिप्लोमा/डिग्री कोर्स पर विचार होगा। तथापि, शिक्षा में डिप्लोमा (विशेष शिक्षा) और बीएड (विशेष शिक्षा) की स्थिति में केवल भारतीय पुनर्वास परिषद् (रिहैबिलिटेशन काउंसिल आॅफ इंडिया) (आरसीआई) द्वारा मान्यता प्राप्त कोर्स पर ही विचार होगा।
प्रशिक्षण प्राप्त करना: डी.एड (विशेष शिक्षा) की योग्यता वाले व्यक्ति को नियुक्ति के बाद प्रारंभिक शिक्षा में एनसीटीई मान्यता प्राप्त छः माह का विशेष कार्यक्रम में प्रशिक्षण प्राप्त करना होगा ।
ऊपर निर्दिष्ट न्यूनतम योग्यताएं भाषा, सामाजिक अध्ययन/सामाजिक विज्ञान, गणित, विज्ञान इत्यादि के शिक्षकों के लिए लागू हैं । शारीरिक शिक्षा के शिक्षकों के संबंध में एनसीटीई विनियम, दिनांक 3 नवम्बर 2001 (समय-समय पर यथासंशोधित) में उल्लिखित शारीरिक शिक्षा शिक्षकों के लिए न्यूनतम योग्यता मानदण्ड लागू होंगे । कला शिक्षा, शिल्प शिक्षा, गृह विज्ञान, कार्य शिक्षा इत्यादि के शिक्षकों के लिए राज्य सरकार और अन्य विद्यालय प्रबंधनों द्वारा निर्धारित वर्तमान पात्रता मानदण्ड तब तक लागू रहेंगे जब तक एनसीटीई ऐसे शिक्षकों के संबंध में न्यूनतम योग्यता निर्धारित करती है।
ऐसा अभ्यर्थी जिसके पास उपर्युक्त योग्यता नहीं होगी, केन्द्रीय शिक्षा पात्रता परीक्षा में शामिल होने के लिए पात्र नहीं होगा।
अभ्यर्थी आवेदन करने से पहले अपनी योग्यता से पूर्णतया संतुष्ट होना चाहिए और यदि वह दिए गए योग्यता मानदण्ड के अनुसार आवेदन के लिए योग्य नहीं है तो इसके लिए वह स्वयं व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होगा । इस ओर ध्यान दिया जाए कि यदि किसी अभ्यर्थी को केन्द्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा में बैठने की अनुमति दे दी गई है तो इसका यह अर्थ नहीं लिया जाए कि अभ्यर्थी की पात्रता प्रमाणित हो गई है। इससे अभ्यर्थी को नियुक्ति के लिए कोई अधिकार नहीं मिलता है। पात्रता संबंधित भर्ती एजेन्सी/नियोक्ता प्राधिकारी द्वारा अंतिम रूप से प्रमाणित की जाएगी।

Leave a Reply